पानी पर तैरते होटल की खासियत जानकर आप रह जाएंगे हैरान, करनी पड़ती है एडवांस बुकिंग!

0
12

पानी पर तैरता ये होटल अपनी खासियत के लिए भी काफी प्रसिद्ध है। गर्मी के मौसम द आर्कटिक बाथ नदी पर तैरता रहता है। वहीं, ठंड के मौसम में नदी जम जाने के कारण होटल भी तैरने की बजाए जम जाता है। नदी में तैरते इस होटल तक पहुंचने के लिए लकड़ी का रास्ता बना हुआ है।

दुनियाभर में एक से बढ़कर एक होटल मौजूद हैं जो देखने में काफी खूबसूरत होते हैं। यहां सुकून के दो पल बिताने या फिर शहर से बाहर कहीं घूमने जाना पर होटल का ही सबसे पहले तलाशा जाता है। हालांकि आज के समय में ऑनलाइन सुविधा मिलने के चलते लोग पहले से ही अपने ठहरने के लिए बुकिंग कर लिया करते हैं। होटल का चयन करने के दौरान ज्यादातर लोग पहले ये देखते हैं कि वहां का लोकेशन कैसी है, वहां कितनी शांति है और अगर होटल पहली बार देखने में ही पसंद आ जाए तो मन खुश और दिल बाग-बाग हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: इन चीजों का एक्सपीरियंस आपको सिर्फ राजस्थान में ही होगा

हम आपको एक ऐसे बेहतरीन होटल के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में शायद ही आपने आज से पहले कभी जाना होगा। ये होटल न तो पहाड़ियों की हसीन वादियों पर है और ना ही इसकी बुनियाद जमीन पर है। वहीं, अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये होटल है कहां? तो आपको बता दें कि ये पानी पर तैरता होटला है, आइए इसके बारे में आपको विस्तार से बताते हैं…
पानी पर तैरता होटला
हम जिस पानी पर तैरते होटल की बात कर रहे हैं वो स्वीडन (Sweden) के लैपलैंड (Lapland) क्षेत्र में मौजूद है, इस होटल को ल्यूल नदी (Lule river) पर बनाया गया है। काफी खूबसूरत दिखने वाले इस होटल का नाम द आर्कटिक बाथ (The Arctic Bath) है।
करनी पड़ती है एडवांस बुकिंग
“द आर्कटिक बाथ” नामक इस होटल में ठहरने के लिए करीब एक साल पहले ही एडवांस बुकिंग करनी पड़ती है। यहां आपको खानपान के साथ-साथ स्पा की भी सुविधा प्राप्त होती है। होटल के चारों ओर पानी ही पानी होने से आसपास का नजारा बेहद खूबसूरत लगता है।
ये है द आर्कटिक बाथ की खासियत
पानी पर तैरता ये होटल अपनी खासियत के लिए भी काफी प्रसिद्ध है। गर्मी के मौसम द आर्कटिक बाथ नदी पर तैरता रहता है। वहीं, ठंड के मौसम में नदी जम जाने के कारण होटल भी तैरने की बजाए जम जाता है।

इसे भी पढ़ें: दुनिया के पहले शाकाहारी शहर की करनी है यात्रा तो घूमें गुजरात के पालीताना में

होटल पहुंचने के लिए है लकड़ी का रास्ता
नदी में तैरते इस होटल तक पहुंचने के लिए लकड़ी का रास्ता बना हुआ है। इसके अलावा होटल पहुंचने के लिए बोट का भी इस्तेमाल किया जाता है। इतना ही नहीं होटल पहुंचने के लिए एयरपोर्ट से कार या हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर सकते हैं।
एक दिन ठहरने का है ये किराया
बेहतरीन नजारे वाला ये द आर्कटिक बाथ होटल 12 कमरों का है। साल 2018 में इसे बनाने का काम शुरु हुआ था। जिस डिजाइन जोहान कोप्पी और आर्किटेक्ट बर्टिल हैरस्ट्रॉम ने किया है। बता दें कि इस होटल में एक दिन रुकने के लिए आपको 815 पाउंड यानी तकरीबन 75 हजार रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं।
देखने को मिलेगा गजब का नजारा
द आर्कटिक बाथ होटल जितना देखने में खूसूरत है उतना ही इसके आस-पास का नजारा भी है। आपके इसके पास भालू देख सकते हैं। इतना ही नहीं ये जगह होर्स राइडिंग और नेचुरल फोटोग्राफी के चलते भी बेहद अच्छी मानी जाती है। इसके अलावा आप नॉर्दर्न लाइट्स (Northern Lights) के नजारा का भी यहां से लुफ्त उठा सकते हैं।
आपको जानकारी के लिए बता दें कि आधी रात के समय जब गैस के कणों पर सूर्य की रोशनी पड़ती है तो आकाश में रंग-बिरंगी रोशनियां चम-चमाने लगती है, उसे नॉर्दर्न लाइट्स कहा जाता है। इनका आकार 20 से 640 किलोमीटर तक का होता है। ऐसे स्थान पर छह महीनों तक दिन और छह महीनों तक रात रहती है।

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here