मंडी में जुटी भीड़, सामाजिक दूरी का पालन कराने में जुटी पुलिस

0
9

सुमेरपुर गल्ला मंडी के बाहर हाईवे किनारे खड़े गेहूं से लदे ट्रैक्टर ट्राली।
– फोटो : HAMIRPUR

ख़बर सुनें

राठ। फसल कटाई के बाद अनाज बेचने के लिए मंडी में किसानों की भीड़ उमड़ रही है। वहीं किसानों को सामाजिक दूरी का पालन कराने के लिए पुलिस के पसीने छूट रहे हैं। मंगलवार को भारी तादात में ट्रैक्टर ट्राली पहुंचने से पनवाड़ी रोड पूरी तरह जाम रहा।
फसल की कटाई के बाद भंडारण की व्यवस्था नहीं होने पर किसानों के सामने उसे बेचना सबसे बड़ी चुनौती है। वहीं कृषि कार्य का भाड़ा आदि चुकता करने के लिए पैसों की आवश्यकता होने पर किसान सीधे अनाज मंडी की ओर रुख कर रहा है। कस्बे की मंडी में लॉकडाउन व सामाजिक दूरी का पालन करने के निर्देश के साथ खरीद शुरू कराई गई।
मंडी में चार सरकारी क्रय केंद्रों सहित व्यापारियों को भी टोकन के आधार पर खरीद की अनुमति है। कुछ दिन सब ठीकठाक चलने के बाद रविवार शाम मौसम खराब होने पर किसानों को अनाज बेचने की चिंता सताने लगी है। सोमवार को जैसे ही मौसम साफ हुआ अनाज मंडी में किसानों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंगलवार को भी सुबह से सैकड़ों ट्रैक्टर ट्राली में अनाज भरकर किसान गल्ला मंडी पहुंच गए।
मंडी में भीड़ रोकने के लिए प्रशासन ने गेट बंद करा दिया। जिसके बाद मंडी के सामने पनवाड़ी रोड पर वाहनों की लंबी लाइन लग गयी। सूचना पर पहुंचे एसडीएम अशोक कुमार यादव, तहसीलदार श्यामनारायण शुक्ला व कोतवाल मनोज शुक्ला ने बीएनवी कालेज की फील्ड खुलवाकर ट्रैक्टरों को व्यवस्थित कराया है।
मंडी में आने वाले वाहनों को हाईवे किनारे खड़ा कराया
भरुुआसुमेरपुर। नवीन गल्ला मंडी में लगातार भीड़ बढ़ने से सामाजिक दूरी का दायरा गायब होने लगा। इस पर मंडी परिसर में भीड़ रोकने के लिए प्रशासन ने सख्त कदम उठाया। सचिव रामसेवक के निर्देश वाहनों को हाईवे किनारे रोककर नंबर के आधार पर प्रवेश दिया गया। अंदर जाने वाले वाहन बाहर हो जाते हैं तब दूसरे वाहन अंदर किए जाते हैं। वहीं कुछ आढ़तियों व पल्लेदारों का कहना है मंडी आने वाले बिचौलियों पर अंकुश लगाना चाहिए।

राठ। फसल कटाई के बाद अनाज बेचने के लिए मंडी में किसानों की भीड़ उमड़ रही है। वहीं किसानों को सामाजिक दूरी का पालन कराने के लिए पुलिस के पसीने छूट रहे हैं। मंगलवार को भारी तादात में ट्रैक्टर ट्राली पहुंचने से पनवाड़ी रोड पूरी तरह जाम रहा।

फसल की कटाई के बाद भंडारण की व्यवस्था नहीं होने पर किसानों के सामने उसे बेचना सबसे बड़ी चुनौती है। वहीं कृषि कार्य का भाड़ा आदि चुकता करने के लिए पैसों की आवश्यकता होने पर किसान सीधे अनाज मंडी की ओर रुख कर रहा है। कस्बे की मंडी में लॉकडाउन व सामाजिक दूरी का पालन करने के निर्देश के साथ खरीद शुरू कराई गई।
मंडी में चार सरकारी क्रय केंद्रों सहित व्यापारियों को भी टोकन के आधार पर खरीद की अनुमति है। कुछ दिन सब ठीकठाक चलने के बाद रविवार शाम मौसम खराब होने पर किसानों को अनाज बेचने की चिंता सताने लगी है। सोमवार को जैसे ही मौसम साफ हुआ अनाज मंडी में किसानों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंगलवार को भी सुबह से सैकड़ों ट्रैक्टर ट्राली में अनाज भरकर किसान गल्ला मंडी पहुंच गए।

मंडी में भीड़ रोकने के लिए प्रशासन ने गेट बंद करा दिया। जिसके बाद मंडी के सामने पनवाड़ी रोड पर वाहनों की लंबी लाइन लग गयी। सूचना पर पहुंचे एसडीएम अशोक कुमार यादव, तहसीलदार श्यामनारायण शुक्ला व कोतवाल मनोज शुक्ला ने बीएनवी कालेज की फील्ड खुलवाकर ट्रैक्टरों को व्यवस्थित कराया है।
मंडी में आने वाले वाहनों को हाईवे किनारे खड़ा कराया
भरुुआसुमेरपुर। नवीन गल्ला मंडी में लगातार भीड़ बढ़ने से सामाजिक दूरी का दायरा गायब होने लगा। इस पर मंडी परिसर में भीड़ रोकने के लिए प्रशासन ने सख्त कदम उठाया। सचिव रामसेवक के निर्देश वाहनों को हाईवे किनारे रोककर नंबर के आधार पर प्रवेश दिया गया। अंदर जाने वाले वाहन बाहर हो जाते हैं तब दूसरे वाहन अंदर किए जाते हैं। वहीं कुछ आढ़तियों व पल्लेदारों का कहना है मंडी आने वाले बिचौलियों पर अंकुश लगाना चाहिए।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here