दर्दनाक हादसा: 11 साल की तमन्ना ने बस की खिड़की से उल्टी के लिए निकाला सिर, ट्रक की टक्कर से धड़ से अलग हुआ

0
278

मध्यप्रदेश के इंदौर-इच्छापुर हाईवे पर एक दर्दनाक हादसा हो गया। यहां बस में सवार 11 साल की एक बच्ची बस में खिड़की से बाहर सिर निकालकर उलटी कर रही थी। तभी सामने से आ रहे ट्रक की टक्कर से उसका सिर कटकर अलग हो गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वह बस में अपनी मां और बड़ी बहन के साथ रिश्तेदार के यहां शादी में जा रही थी। घटना देशगांव चौकी के रोशिया फाटे के पास की है।

जानकारी के मुताबिक, देशगांव चौकी प्रभारी रमेश गवले ने बताया कि बस सुबह 8 बजे खंडवा से निकली थी और 9 बजे के करीब रोशिया फाटे से पहले कश्मीरी नाले तक पहुंची ही थी कि सामने से आ रहे ट्रक ने ओवर टेक किया और क्रॉस करने लगा, जिससे वह बस से टकराते हुए निकला। इसी बीच बस में सवार 11 साल की बच्ची तमन्ना ड्राइवर सीट के पीछे बैठी थी, तमन्ना का सिर खिड़की के बाहर था, जो बस और ट्रक की टक्कर की चपेट में आ गया। इससे बच्ची का सिर धड़ से अलग हो कर सड़क पर गिर गया। हादसे के बाद ट्रक ड्राइवर ट्रक छोड़ फरार हो गया। मामले में पुलिस मर्ग कायम कर जांच कर रही है और वहीं ट्रक ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कर ट्रक पुलिस ने जब्त कर लिया है।

साइकिल का शौक था तमन्ना को
तमन्ना का परिवार खंडवा की बंगाली कॉलोनी की गली नंबर-3 में रहता है। वह घर में सबसे छोटी थी। तमन्ना की चाची ने बताया बच्ची अपनी मां और बड़ी बहन के साथ खाला की शादी में बड़वाह जा रही थी और यह हादसा हो गया। उन्होंने बताया कि तमन्ना को साइकिल चलाने का शौक था। परिवार के आर्थिक हालात ठीक नहीं हैं। तमन्ना के पिता हैदर कृषि उपज मंडी में हम्माली करते हैं और मां लोगों के घर झाड़ू-पोंछे का काम करती हैं।

तमन्ना को अफसर बनाना चाहते थे पिता
परिजनों के अनुसार, तमन्ना और उसकी बहन रुबिना साथ में स्कूल जाती थीं। परदेशीपुरा के पानी दफ्तर स्कूल में तमन्ना छठी क्लास में पढ़ती थी। पूरे मोहल्ले में सिर्फ यहीं दो बहनें थीं, जो स्कूल जाती थीं, बाकी लड़कियां यहां मदरसे में पढ़ती हैं। तमन्ना और बड़ी बहन रुबिना अच्छे स्कूल में पढ़े इसलिए दिन-रात पिता मेहनत करते थे। तमन्ना के पिता उसे अच्छा पढ़ा-लिखाकर अफसर बनाना चाहते थे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here