128 corona positives found in Delhi, total cases were 2376 | कोविड-19: दिल्ली में कोरोना के 128 नए मरीज, कुल मामले 2376, अब तक 50 की मौत

0
8

राजधानी दिल्ली में कोरोना हॉटस्पॉट यानी कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 92 हो गई है। वहीं गुरुवार को दिल्ली में कोरोना वायरस के 128 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद दिल्ली में कोरोना के कुल मामले 2376 हो गए हैं। दिल्ली में कोरोना से अभी तक 50 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से दो रोगियों की मौत गुरुवार को हुई। दिल्ली में कोरोना के 808 रोगी अभी तक ठीक भी हो चुके हैं। इनमें से 84 रोगियों को गुरुवार को ही अस्पताल से छुट्टी मिली है। शहर में कुल 1518 कोरोना के रोगी विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं।

सबसे ज्यादा कोरोना हॉटस्पॉट दक्षिण-पूर्वी जिले में
गुरुवार को दिल्ली सरकार ने तीन नए हॉटस्पॉट की पहचान की है। दिल्ली सरकार ने जिन नए हॉटस्पॉट की पहचान की है, उनमें शाहदरा के दयानंद विहार के मकान नंबर 15 से 101 तक, महरौली का समशी तलाब, ए-3 लेक व्यू अपार्टमेंट और द्वारका के राजनगर-2 स्थित आरजेडएफ गली नंबर 1 शामिल है। दिल्ली में सबसे ज्यादा कोरोना हॉटस्पॉट दक्षिण-पूर्वी जिले में हैं। यहां कुल 19 स्थानों को कोरोना हॉटस्पॉट घोषित किया जा चुका है।

दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, जिन इलाकों को हम हॉटस्पॉट मानकर सील कर रहे हैं, वहां बाहर से किसी व्यक्ति को अंदर नहीं जाने दिया जाता। इसी तरह अंदर रह रहे व्यक्ति भी बाहर नहीं आ सकते। यहां रह रहे लोगों तक जरूरत का सारा सामान यहां तैनात पुलिसकर्मी व अन्य कर्मचारियों द्वारा पहुंचाया जा रहा है।

मप्र में अब तक कोरोना के 1687 मामले, 83 की मौत, 200 से ज्यादा मरीज हुए ठीक

हालांकि सील किए गए इन इलाकों में अंदर ही अंदर लोगों की चहलकदमी पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपनी चिंता जाहिर कर चुके हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, जिन इलाकों को सील किया गया है, वहां बाहर का कोई व्यक्ति नहीं आ रहा है और वहां से कोई व्यक्ति बाहर भी नहीं जा सकता, लेकिन यहां रहने वाले कुछ लोग अंदर ही अंदर अपनी गली, मोहल्लों में घूम रहे हैं या फिर एक-दूसरे के घर आते-जाते हैं, जिससे कोरोना फैलने का खतरा बढ़ जाता है।

इससे पहले, दिल्ली सरकार ने जिन इलाकों को हॉटस्पॉट घोषित किया था, उनमें जहांगीरपुरी के कुछ इलाके भी शामिल थे। हालांकि इसके बावजूद जहांगीरपुरी में पहले 31 और गुरुवार को 46 व्यक्ति कोरोनावायरस की चपेट में आ गए। प्रारंभिक जांच में पता लगा है कि इस परिवार के कुछ लोग इलाके को सील किए जाने के बावजूद घरों से बाहर निकलते रहे और एक-दूसरे के घरों में भी गए, जिससे वायरस संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंच गया।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here