दिनांक 04 सितम्बर 2022

मा0 मुख्यमंत्री जी ने 72 करोड़ की परियोजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास। 

 जिले में देश के पहले अमृत सरोवर की स्थापना और जल संरक्षण के कार्यो की मा0 मुख्यमंत्री जी ने की सराहना। 

 01 विशेष फिक्स्ड हेल्थ एटीएम और 12 पोर्टेबल हेल्थ एटीएम की पहल को भी सराहा, बोले-डॉक्टरों की कमी को तकनीक के माध्यम से पूरा करने में मदद मिलेगी। 

माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने रामपुर शहर स्थित फिजिकल ग्राउंड परिसर में आयोजित जनसभा कार्यक्रम के दौरान जनपद के विकास कार्यक्रमों को गति प्रदान करने के उद्देश्य से 72 करोड़ रुपए की लागत वाली 22 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

जनसभा कार्यक्रम के दौरान मा0 मुख्यमंत्री जी ने राघव नाम के बच्चे को खीर खिला कर उसका अन्नप्राशन संस्कार कराया साथ ही कुपोषित बच्ची खुशी को पोषण किट प्रदान की।

 पीएम केयर्स के अंतर्गत अरीशा को 10 लाख रुपए का चेक, बाल सेवा योजना में चारू सिंह को लैपटॉप, सौंदर्या सक्सेना को टेबलेट, सबीना को स्मार्टफोन प्रदान किया।

ग्राम पंचायतों में प्रतिस्पर्धात्मक माहौल विकसित करने के उद्देश्य से विभिन्न क्षेत्रों में बेहतर कार्य करने वाले ग्राम प्रधान श्री महिपाल सिंह और श्रीमती रुपाली लोधी को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

गणेशा इन्फोटेक द्वारा जिले में फैक्ट्री स्थापित करने और कर्नाटक मॉडल पर जनपद में जल संरक्षण के उपाय विकसित करने में अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे आर्ट ऑफ लिविंग के श्री दिग्विजय खरोटे को भी मा0 मुख्यमंत्री जी ने सम्मानित किया।

माननीय मुख्यमंत्री जी ने अपने संबोधन में कहा कि रामपुर वासियों ने विकास, सुरक्षा और समृद्धि के साथ खड़े होकर एक नए युग की शुरुआत की है।

 उन्होंने श्री घनश्याम सिंह लोधी को सांसद चुनने पर जनपद वासियों के प्रति आभार व्यक्त किया और कहा कि रामपुर की अपनी पौराणिक और ऐतिहासिक पहचान रही है। इस पहचान को हर हाल में बनाए रखने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि जिले में विकास की हर योजना बिना भेदभाव के लागू होगी, इसमें कोई व्यवधान उत्पन्न नहीं होगा।

राजा राम सिंह के नाम पर इस जिले को जाना जाता है और वर्ष 2020 में पनवड़िया फ्लाईओवर का उनके नाम पर नामकरण किया गया।

 उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने 08 वर्ष पहले सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास और सबके प्रयास का देश के विकास और स्वावलंबन के लिए मंत्र दिया था।

उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति का विकास, समृद्धि और रोजगार के लिए अपना योगदान हो सकता है। हस्तशिल्पी के हुनर और युवाओं की ऊर्जा तथा प्रतिभा का लाभ देश को मिलता है। 

अन्नदाता किसान खेतों में अन्न उगाकर हर एक व्यक्ति तक पहुंचाने का कार्य बिना भेदभाव के करता है। हमारा श्रमिक जब पसीना बहाता है तब बड़ी-बड़ी इमारतें खड़ी हो जाती हैं। जब समाज का हर तबका अपना योगदान करता है तब विकास अमलीजामा पहनता हुआ दिखाई देता है।

पिछले साढे 5 वर्षों में जिले में 3200 करोड़ रुपए से अधिक की परियोजनाओं को पूरा किया गया है इसमें संपर्क मार्ग और विभिन्न प्रकार की बुनियादी सुविधाओं से युक्त आम जनमानस से जुड़ी परियोजनाएं शामिल हैं।

 उन्होंने कहा कि प्रदेश को नवीन ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए आवश्यकताओं के अनुसार लगातार महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं।

सुरक्षा के बेहतर माहौल में लोग निवेश करने के लिए प्रदेश में आ रहे हैं। पिछले 8 माह में जिले में ही 20 नई औद्योगिक इकाइयां स्थापित हुई हैं इससे 540 करोड रुपए का निवेश हुआ है और 600 लोगों को प्रत्यक्ष तथा 4500 लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर मिले हैं।

रामपुर का वायलिन, रामपुर की चाकू, चटापटी, जरी जरदोजी, रामपुरी टोपी और पतंग आदि हस्तशिल्प से जुड़े तमाम ऐसे कार्यक्रम है जिन्हें विश्वकर्मा श्रम सम्मान तथा एक जनपद-एक उत्पाद से जोड़ा गया है।

 उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक निवेश को प्रोत्साहित करते हुए सरकारी नौकरी, रोजगार और स्वरोजगार को एक साथ आगे बढ़ाते हुए अगले 5 वर्षों में ऐसे परिवार जिनमें किसी भी व्यक्ति ने सरकारी नौकरी, रोजगार या स्वत: रोजगार प्राप्त नहीं किया है उनके लिए हमारा प्रयास है कि ऐसे परिवारों के किसी एक व्यक्ति को रोजगार या स्वतः रोजगार के साथ जोड़ने का कार्य वृहद स्तर पर होगा।

उन्होंने कहा कि बिलासपुर में इंडस्ट्रियल स्टेट की स्थापना के कार्य को सरकार द्वारा प्राथमिकता से आगे बढ़ाया जाएगा इससे व्यापक स्तर पर रोजगार की संभावनाओं का सृजन होगा। शाहबाद-रामपुर-बाजपुर मार्ग का चौड़ीकरण कार्य भी शीघ्र ही कराया जाएगा। शाहबाद तहसील के अंतर्गत मदारपुर में सेतु निर्माण का कार्य होगा। मिलक पटवाई मार्ग पर मंडी समिति के सामने रेलवे सम्पार फाटक की सैद्धांतिक सहमति दी जा चुकी है और रेलवे से एनओसी मिलते ही रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण कार्य को कराया जाएगा।

 भैया नगला में कोसी नदी पर सेतु निर्माण के प्रस्ताव का भी उन्होंने जिक्र किया। उन्होंने कहा कि रूद्र विलास चीनी मिल के आधुनिकीकरण का कार्य भी प्राथमिकता से कराया जाएगा।

इस दौरान जिला प्रशासन द्वारा जिले में विभिन्न क्षेत्रों में कराए गए अभिनव कार्यों पर आधारित फोटो प्रदर्शनी का भी मा0 मुख्यमंत्री जी ने अवलोकन किया।

मा0 मुख्यमंत्री जी के आवागमन अवसर पर पशुधन मंत्री श्री धर्मपाल सिंह, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती गुलाब देवी, राज्यमंत्री गन्ना विकास श्री संजय गंगवार, राज्य मंत्री कृषि श्री बलदेव सिंह औलख, क्षेत्रीय अध्यक्ष श्री मोहित बेनीवाल, सांसद श्री घनश्याम सिंह लोधी, चेयरमैन पैक्सफेड श्री सूर्यप्रकाश पाल, विधायक श्रीमती राजबाला, सदस्य विधान परिषद कुँवर महाराज सिंह, सदस्य विधान परिषद सरदार हरि सिंह ढिल्लो, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री ख्यालीराम लोधी, जिला प्रभारी श्री राजीव सिसोदिया और जिला अध्यक्ष श्री अभय गुप्ता सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं वरिष्ठ अधिकारी गण मौजूद रहे।

 मा0 मुख्यमंत्री ने रामपुर में देश के पहले अमृत सरोवर और जल संरक्षण लिए कराए गए कार्यों की सराहना की। 

   मा0 मुख्यमंत्री जी ने कहा कि रामपुर अब बदल रहा है। रामपुर ने प्रधानमंत्री जी के विजन को साकार करके देश का पहले अमृत सरोवर तैयार करके यह संदेश दिया है कि यदि करने की इच्छा शक्ति हो तो परिणाम भी सकारात्मक हो जाता है। प्रधानमंत्री जी ने मन की बात में रामपुर के अमृत सरोवर की चर्चा करके रामपुर को नई पहचान देने का कार्य किया है इसके लिए उन्होंने प्रसन्नता भी व्यक्त की और जिला प्रशासन को बधाई दी।

 रामपुर में हेल्थ एटीएम की पहल की मुख्यमंत्री ने की सराहना। 

मा0 मुख्यमंत्री जी ने कार्यक्रम स्थल पर हेल्थ एटीएम का शुभारंभ किया तथा कहा कि 

रामपुर में हेल्थ एटीएम की पहल सराहनीय है इससे 100 प्रकार की विभिन्न जाँचे संभव हैं और इस हेल्थ एटीएम की रिपोर्ट से देश दुनिया के बेहतरीन डॉक्टरों से परामर्श और स्वास्थ्य उपचार प्राप्त किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि इस पहल से डॉक्टरों की कमी को तकनीक के आधार पर पूरा किया जा सकेगा।

इसी प्रकार से हर जिले में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में हेल्थ एटीएम लगाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि स्थानीय स्तर पर सीएसआर से लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने की दिशा में ऐसे महत्वपूर्ण कार्य किए जा सकें।

 बाल शिशुगृह में बच्चों के लिए सुविधाओं को भी मा0 मुख्यमंत्री ने सराहा। 

रामपुर शहर में संचालित प्रदेश के पहले आईएसओ प्रमाणित संस्था के रूप में शिशु सदन पहुंचकर मुख्यमंत्री ने वहां निवासरत बच्चों का हालचाल जाना तथा उनके बारे में मंडलायुक्त श्री आञ्जनेय कुमार सिंह और जिलाधिकारी श्री  रविन्द्र कुमार माँदड़ से जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बच्चों से उनके नाम पूछे, चॉकलेट और उपहार वितरित किए। वही गोपाल और नगमा नाम के बच्चों से बातचीत भी की। इसके साथ साथ उन्होंने संस्था में स्टाफ की तैनाती और उनकी शिक्षा तथा सर्वांगीण विकास के लिए प्रशासनिक प्रयासों पर संतोष व्यक्त करते हुए सराहा। 

उन्होंने कहा कि निराश्रित बच्चे हमारे समाज की धरोहर हैं इसलिए हम सबकी यह जिम्मेदारी बनती है कि हम सभी ऐसे बच्चों के प्रति संवेदनशील बने।

 रामपुर पुलिस लाइन में निर्माणाधीन आवासीय परिसर का निरीक्षण 

माननीय मुख्यमंत्री जी ने रामपुर पुलिस लाइन में 886.63 लाख रुपए की लागत से निर्माणाधीन आवासीय परिसर का निरीक्षण किया।

 इस दौरान उन्होंने पूरे परिसर का निरीक्षण करके अभियंताओं से बातचीत की साथ ही जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि तय समय सीमा के भीतर निर्माण कार्य पूर्ण कराते हुए उसकी उपयोगिता सुनिश्चित कराई जाए।

64.51 करोड़ की लागत वाली 19 परियोजनाओं का हुआ लोकार्पण 

680.17 लाख रूपए की लागत से विकास खण्ड मिलक के ऐमी कल्याणपुर मार्ग पर पीलाखार नदी पर सेतु पहॅुच मार्ग, अतिरिक्त पहॅुच मार्ग एवं सुरक्षात्मक कार्य का निर्माण, 760.83 लाख रूपए की लागत से ग्राम मनोना, पदपुरी मार्ग पर भाखड़ा नदी पर सेतु पहॅुच मार्ग,  अतिरिक्त पहॅुच मार्ग एवं सुरक्षात्मक कार्य का निर्माण, 279.10 लाख रूपए की लागत से राष्ट्रीय पेयजल योजना मथुरापुर, 170.25 लाख रूपए की लागत से राजकीय इण्टर कालेज धमौरा में छात्रावास का निर्माण कार्य, 170.25 लाख रूपए की लागत से राजकीय इण्टर कालेज अशोकनगर बिलासपुर में छात्रावास का निर्माण कार्य, 1026.69 लाख रूपए की लागत से निर्माणाधीन अग्निशमन केन्द्र चन्दुपुरी टाण्डा के प्रशासनिक भवन का लोकार्पण, 987.69 लाख रूपए की लागत से निर्माणाधीन अग्निशमन केन्द्र रामपुर तहसील सदर के आवासीय/अनावासीय भवनों का निर्माण के प्रशासनिक भवन का लोकार्पण, 960.70 लाख रूपए की लागत से निर्माणाधीन अग्निशमन केन्द्र तहसील मिलक के आवासीय/अनावासीय भवनों का निर्माण के प्रशासनिक भवन का लोकार्पण, 48.15 लाख रूपए की लागत से विकास खण्ड बिलासपुर में गुरूद्वारा छठी पातशाही नवाबगंज का पर्यटन निर्माण कार्य, 45.69 लाख रूपए की लागत से लक्खी बाग शाहबाद में प्रचाीन मन्दिर का पर्यटन निर्माण कार्य, 36.90 लाख रूपए की लागत से प्राचीन शिव मन्दिर भमरौआ का पर्यटन निर्माण कार्य, 100.92 लाख रूपए की लागत से रामगंगा नदी के वायें किनारे पर स्थित मदारपुर, मथुरापुर एवं बिचपुरी आदि ग्रामों की नदी की बाढ़ से बचाने हेतु बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य, 118.90 लाख रूपए की लागत से बलखेड़ा से भोलापुर मार्ग का नवनिर्माण कार्य, 135.57 लाख रूपए की लागत से गुलाबपुर से मंगतपुर का मजरा मार्ग का नवनिर्माण कार्य, 120.44 लाख रूपए की लागत से बिलासपुर से चड््ढा पेपर मिल से करतारपुर सुआनगला मार्ग के 11 किमी से खानपुर के बीच कलईया नदी पर आरसीसी कल्वर्ट व पहॅुच मार्ग का नवनिर्माण कार्य, 35.80 लाख रूपए की लागत से चमरौआ व्हाईट हॉल पब्लिक स्कूल से ककरौआ मार्ग सुदृढ़ीकरण का कार्य, 40.35 लाख रूपए की लागत से रामपुर स्वार मार्ग से धनौरी मार्ग तक सुदृढ़ीकरण का कार्य, 413.95 लाख रूपए की लागत से मिलकखानम खौद रोड से बिहारी नगर वाया आका नगर मार्ग का निर्माण कार्य, 319.32 लाख रूपए की लागत से शाहबाद टाण्डा रोड 9 किमी से ओशी रोड वाया परौता मार्ग का निर्माण कार्य 

 7.62 करोड़ की लागत वाली 03 परियोजनाओं के हुआ शिलान्यास 

 145.24 लाख रूपए की लागत से जिला चिकित्सालय परिसर में कम्प्रेहेंसिव मेडिकल, सर्जिकल एण्ड एक्सीडेंटल इमरजेंसी यूनिट का निर्माण कार्य, 329.75 लाख रूपए की लागत से धावनी-हसनपुर मुण्डिया कलां रोड से ब्लाक बाउण्ड्री तक वाया दनकरी मार्ग का निर्माण कार्य एवं 287.88 लाख रूपए की लागत से रामपुर शाहबाद रोड 25 किमी से कूप मार्ग का निर्माण कार्य।                          

 रामपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.