बीस दिनों में सिर्फ बीस फीसदी गेहूं की खरीद

0
43

ख़बर सुनें

भरुआसुमेरपुर। बीस दिनों में गेहूं खरीद का लक्ष्य सिर्फ बीस फीसदी ही हासिल हो सका है। ऐसे में लक्ष्य हासिल करने के लिए केंद्रों में कांटे बढ़ाए जाने की आवश्यकता है।
नवीन गल्ला मंडी में गेहूं खरीद के लिए विपणन शाखा, पीसीएफ व यूपी एग्रो के गेहूं खरीद केंद्र संचालित हैं। 15 अप्रैल से 5 मई तक तीनों केंद्रों में 217 किसानों से कुल 12223 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। जो लक्ष्य के सापेक्ष बीस प्रतिशत है। बता दें कि विपणन शाखा का लक्ष्य 25000 क्विंटल के सापेक्ष अभी तक 84 किसानों से 4064 क्विंटल गेहूं खरीदा है।
इसी तरह पीसीएफ ने 15000 क्विंटल लक्ष्य के सापेक्ष 55 किसानों से 3531 क्विंटल गेहूं खरीदा है। वहीं यूपी एग्रो ने 15000 के सापेक्ष 78 किसानों से 4628 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। सभी केंद्रों में 217 किसानों का 12223 क्विंटल खरीदा गया है।
विपणन शाखा के केंद्र प्रभारी सुनील कुमार, पीसीएफ के शिव सिंह, यूपी एग्रो के नवलकिशोर यादव ने कहा लक्ष्य हासिल करने के लिए केंद्रों में कांटे बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। नियम में भी ढील प्रदान करनी होगी। तभी 15 जून तक लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है।

भरुआसुमेरपुर। बीस दिनों में गेहूं खरीद का लक्ष्य सिर्फ बीस फीसदी ही हासिल हो सका है। ऐसे में लक्ष्य हासिल करने के लिए केंद्रों में कांटे बढ़ाए जाने की आवश्यकता है।

नवीन गल्ला मंडी में गेहूं खरीद के लिए विपणन शाखा, पीसीएफ व यूपी एग्रो के गेहूं खरीद केंद्र संचालित हैं। 15 अप्रैल से 5 मई तक तीनों केंद्रों में 217 किसानों से कुल 12223 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। जो लक्ष्य के सापेक्ष बीस प्रतिशत है। बता दें कि विपणन शाखा का लक्ष्य 25000 क्विंटल के सापेक्ष अभी तक 84 किसानों से 4064 क्विंटल गेहूं खरीदा है।

इसी तरह पीसीएफ ने 15000 क्विंटल लक्ष्य के सापेक्ष 55 किसानों से 3531 क्विंटल गेहूं खरीदा है। वहीं यूपी एग्रो ने 15000 के सापेक्ष 78 किसानों से 4628 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। सभी केंद्रों में 217 किसानों का 12223 क्विंटल खरीदा गया है।

विपणन शाखा के केंद्र प्रभारी सुनील कुमार, पीसीएफ के शिव सिंह, यूपी एग्रो के नवलकिशोर यादव ने कहा लक्ष्य हासिल करने के लिए केंद्रों में कांटे बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। नियम में भी ढील प्रदान करनी होगी। तभी 15 जून तक लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here