| उज्जैन में क्वारैंटाइन जोन में काम कर रहे हेल्थवर्कर की मौत, खबर सुनकर पत्नी ने भी दम तोड़ दिया

0
8
  • रिपोर्ट्स के मुताबिक, एएनएम नियाज खान का आरडी गार्गी मेडिकल कॉलेज में खांसी-बुखार का इलाज चल रहा था
  • खान की मौत की खबर सुनकर पत्नी रोशन बी को दिल का दौरा पड़ा और उन्होंने दम तोड़ दिया
  • उज्जैन सीएमएओ ने घटना की आधिकारिक जानकारी से इनकार किया, कहा- रिपोर्ट आने पर स्थिति साफ होगी

Apr 26, 2020, 08:48 PM IST

कोरोना. आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में एक हेल्थ वर्कर ने रविवार को दम तोड़ दिया। पत्नी को जब यह खबर मिली तो उन्हें दिल का दौरा पड़ गया और उनकी भी मृत्यु हो गई। हेल्थ वर्कर नियाज खान कोरोना संदिग्ध थे और पिछले 10 दिनों से क्वारैंटाइन जोन में खाना बांटने का काम कर रहे थे। खान का एक बेटा है, जो जॉब करता है। हालांकि, भास्कर को लोकल स्तर पर मिली इस जानकारी से फिलहाल उज्जैन का स्वास्थ्य महकमा इनकार कर रहा है।
उज्जैन की सीएमएओ अनुसुईया गवली ने बताया कि इस बारे में अभी विभाग के पास कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है। आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज से रिपोर्ट आने के बाद स्थिति साफ होगी।
मौत की खबर सुनकर पत्नी के सीने में दर्द उठा
जानकारी के मुताबिक, बेगम बाग की पक्की काॅलाेनी में रहने वाले एएनएम नियाज खान खेड़ा खजुरिया में स्वास्थ्यकर्मी थे। वे पिछले 10 दिनों से क्वारैंटाइन जोन में खाना बांटने का काम कर रहे थे। उन्हें सर्दी खांसी और बुखार की शिकायत हुई। इसके बाद उनका चेकअप करवाया गया और उन्हें आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया। रविवार दोपहर उन्होंने दम तोड़ दिया। पति की मौत की जानकारी जब उनकी पत्नी रोशन बी को लगी तो उनके सीने में अचानक दर्द हुआ और अस्पताल लेकर जाने के पहले ही उनकी मौत हो गई।

नियाज खान के मित्र ने बताया कि वे एनएमए नॉन मेडिकल असिस्टेंट, कुष्ठ रोग विभाग में कार्यरत थे। उनकी ड्यूटी क्वारैंटाइन में रह रहे संदिग्ध और पॉजिटिव मरीजों को खाना पहुंचाने में लगी हुई थी। उनकी तबीयत खराब लगने पर कुछ दिन पहले वे वहां से हट गए थे। शनिवार शाम को उनकी तबीयत ज्यादा खराब होने पर परिजन ने एम्बुलेंस को कॉल किया। उन्हें बुखार के साथ बहुत ज्यादा खांसी चल रही थी। एम्बुलेंस उन्हें लेकर आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज पहुंची। जहां नियाज को भर्ती कर लिया गया, जबकि उनके भाई और बेटे को घर भेज दिया। सुबह उनके बेटे के पास कॉल आया कि वे नहीं रहे। इसके बाद परिजन शव लेने अस्पताल पहुंचे। यहां काफी देर इंतजार के बाद उन्हें शव सौंपा गया। परिजनों ने नियाज की पत्नी रोशन बी को यहां जानकारी नहीं दी थी। जैसे ही उन्हें जानकारी दी गई। उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनकी भी मौत हो गई।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here