खतरे में जिंदगी, फिर भी नहीं मान रहे लोग

0
33

लखीमपुर खीरी। जिले में कोरोना संक्रमितों को संख्या लगातार बढ़ रही इसके बाद भी लोग जागरूक नहीं हो रहे हैं।

आलम यह है कि एक हफ्ते में प्रवासी मजदूरों सहित 35 लोग संक्रमित मिले हैं इसमें शहर क्षेत्र के तीन पॉजिटिव प्रवासियों के परिजन से लेकर मिलने बाले लोग भी बाजार में आते जाते रहे हैं। बाजार में इन दिनों बढ़ रही भीड़ कही हालात बिगाड़ न दे इससे इनकार नहीं किया जा सकता। जिले में अब तक 38 हजार से अधिक प्रवासी मजदूर आ चुके हैं। इन मजदूरों को प्रशासन ने होम क्वारंटीन किया है। लेकिन प्रवासी मजदूरों के आने के बाद हालात बिगड़ते जा रहे हैं। वर्तमान में जिले में प्रवासी मजदूरों सहित 35 लोग संक्रमित हैं। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ गया है, फिर भी लोग बेधड़क सड़कों पर दिख रहे हैं। होम क्वारंटीन मजदूर ठीक ढंग से निगरानी न होने के कारण गांव से लेकर शहर तक आ-जा रहे हैं। बाजारों और सड़कों पर हो रही भीड़ के बीच लॉकडाउन-4 के नियमों का पालन भी नहीं हो रहा। कहीं पर भी सामाजिक दूरी का ख्याल नहीं रखा जा रहा है। लोग बिना मास्क के पैदल और वाहनों पर आते-जाते रहे। जिम्मेदारों ने इनकी तरफ से अपनी आंखें भी फेर ली। इससे लोगों की जिंदगी खतरे में पड़ रही है, लेकिन इसके बाद भी लोग घरों पर रुकने के बजाय सड़कों और बाजारों में घूम रहे हैं। सामाजिक दूरी का भी ख्याल नहीं रख रहे हैं।
बिजुआ। सामाजिक दूरी को हथियार बनाने की बात तो दूर यहां पर लोग उसकी धज्जियां उड़ा रहे है। भानपुर में बैंक के बाहर लगी तो ऐसा ही संदेश दे रही है।
भीरा थाना इलाके के भानपुर में आर्यवर्त बैंक के बाहर खाताधारकों की लगी भीड़ पर किसी जिम्मेदार का ध्यान नहीं जा रहा है, इस समय बाहर से आए मजदूर भी इस भीड़ में शामिल हैं, जो कि अपने खाते से पैसा निकालने आए हुए हैं। सुबह 10 बजे से बैंक खुलने से शाम तक यूं ही खाताधारक भीड़ लगाकर जमा रहते हैं। बैंक कर्मचारियों की लापरवाही से इकट्ठा हुई भीड़ लोगों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है।
अमीरनगर। बुधवार को कस्बे की आर्यावर्त बैंक में ग्राहकों की भीड़ सामाजिक दूरी का पालन करते नहीं दिखी। तमाम महिलाएं, पुरुष जिनके चेहरों पर मास्क भी नहीं थे। शाखा प्रबंधक दीपक गौड़ ने बताया कि ग्राहकों को असुविधा न हो इसके लिए माइक से नाम बुलाया जाता है। फिर भी लोग बैंक के मुख्य द्वार पर भीड़ लगाकर सामाजिक दूरी का पालन करने में सहयोग नहीं करते हैं।
पलियाकलां। नायब तहसीलदार प्रज्ञा अग्निहोत्री ने बुधवार को शहर की कई बैंकों व मेडिकल स्टोरों पर लगने वाली भीड़ का निरीक्षण किया। उन्होंने बैंकों के बाहर खड़ी नेपाली महिलाओं को सामाजिक दूरी के महत्व की जानकारी दी। दस वर्ष के बच्चों को अनावश्यक रूप से न लाने की बात समझाई। इसके अलावा मेडिकल स्टोरों पर स्वच्छता रखने की जानकारी दी। 65 साल से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक दिखने पर उन्होंने उनको घर भेजवाया। साथ ही उनके घरों पर दवाई की व्यवस्था नायब तहसीलदार ने कराई।

भीड़ न लगाने और लोगों को नियमों का पालन करने की हिदायत लगातार दी जा रही है। नियमों का कड़ाई से पालन कराया जा रहा है। उल्लंघन करने वालों पर पुलिस कार्रवाई कर रही है।
-विजय आनंद, सीओ सिटी

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here