कारोबारी घर आने की बात कहता रहा, पत्नी करती रही इंतजार, सुबह लाश मिलने से मचा हड़ंकप

0
47

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में लापता हुए कारोबारी की नदी किनारे लाश मिलने से हड़कंप मच गया है। मृतक की सिर कूंचकर हत्या करी दी गई थी। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मृतक मुकेश(28) पुत्र मुक्कू सरायमीर थाने के आसाढ़ा गांव का रहने वाला था। उसकी नंदाव बाजार में फर्चीनर की दुकान है। वह गुरुवार की शाम को घर से सब्जी लेने गया था। रात करीब आठ बजे घर फोन कर पत्नी को बताया कि अभी घर आ रहा हूं। रात साढ़े नौ बजे उसकी पत्नी और भाभी ने फोन लगा कर पूछा, तो बताया कि मैं अभी तेजपुर गांव में हूं।

रात 10 बजे तक आऊंगा, लेकिन रात 11 बजे तक घर नहीं आया। उसकी मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया। परिजनों का कहना था उसकी बातों में घबराहट साफ झलक रही थी। उन्होंने अपहरण की आशंका जताई थी। शुक्रवार तक मुकेश के घर न आने पर पत्नी कुसुम ने थाने में अपहरण की आशंका जताते हुए तहरीर दी।

हत्या की भी आशंका जताई थी। आरोप है कि पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। शनिवार की सुबह उसकी लाश सरायमीर थाने के तेजपुर एवं पुरंदरपुर गांव के मध्य मंगई नदी के किनारे फेंकी मिली। हत्यारोपियों ने उसका चेहरा बुरी तरह से कूंच दिया है। सिर के बाल काट लिए थे। गांव के लोग शनिवार की सुबह उस तरफ गए तो मुकेश की लाश फेंकी मिली।

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर लोगों की भीड़ जुट गयी। पुलिस मौके पर पहुंची। मौका मुआयना के बाद मौके पर डाग स्क्वाड की टीम को बुलाया गया। मुकेश एक बेटा और तीन बेटियों का पिता था। प्रभारी निरीक्षक सरायमीर अनिल सिंह ने बताया कि हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा। डाग स्क्वाड टीम को बुलाया गया है। जांच जारी है।

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में लापता हुए कारोबारी की नदी किनारे लाश मिलने से हड़कंप मच गया है। मृतक की सिर कूंचकर हत्या करी दी गई थी। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मृतक मुकेश(28) पुत्र मुक्कू सरायमीर थाने के आसाढ़ा गांव का रहने वाला था। उसकी नंदाव बाजार में फर्चीनर की दुकान है। वह गुरुवार की शाम को घर से सब्जी लेने गया था। रात करीब आठ बजे घर फोन कर पत्नी को बताया कि अभी घर आ रहा हूं। रात साढ़े नौ बजे उसकी पत्नी और भाभी ने फोन लगा कर पूछा, तो बताया कि मैं अभी तेजपुर गांव में हूं।

रात 10 बजे तक आऊंगा, लेकिन रात 11 बजे तक घर नहीं आया। उसकी मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया। परिजनों का कहना था उसकी बातों में घबराहट साफ झलक रही थी। उन्होंने अपहरण की आशंका जताई थी। शुक्रवार तक मुकेश के घर न आने पर पत्नी कुसुम ने थाने में अपहरण की आशंका जताते हुए तहरीर दी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here