प्रतापगढ़: धूल उड़ाने पर मैजिक चालक की गोली मारकर हत्या

0
47

Updated Thu, 14 May 2020 11:56 AM IST

ख़बर सुनें

मैजिक से धूल उड़ने के विवाद को लेकर दबंगों ने चालक की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली लगने से चालक के तीन साथी भी घायल हो गए। घायलों को लेकर पहुंचे परिजन अस्पताल में हंगामा करने लगे। बाद में सभी को प्रयागराज रेफर कर दिया गया। गांव में तनाव के चलते फोर्स तैनात कर दी गई है। आरोपी घर छोड़कर फरार हो गए हैं।

नगर कोतवाली के पूरेशेख टेऊंगा निवासी अनिल उर्फ बबलू (40) पुत्र श्रीराम मैजिक चलाता था। बुधवार की शाम करीब साढ़े छह बजे वह अपनी मैजिक गाड़ी लेकर घर जा रहा था। कुछ दूरी पर नरवा का रहने वाला शाहरुख पुत्र जब्बार खड़ा था। मैजिक से धूल उड़ने पर शाहरुख ने अनिल को गाड़ी धीमी गति से चलाने के लिए कहा। इसी को लेकर उनके बीच विवाद बढ़ गया।

शाहरुख को अनिल की बात नागवार गुजरी। उसने अपने कुछ साथियों को बुला लिया। बातचीत के दौरान ही शाहरुख अपने साथियों के साथ फायरिंग करने लगा। गोली लगने से अनिल उर्फ बबलू (40), रिंकेश (24) पुत्र प्रेमचंद्र, प्रदीप (30) पुत्र मनोज व रवि (27) पुत्र श्यामलाल घायल हो गए। शोरशराबा व फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़े तो हमलावर भाग निकले। गोली से घायल लोगों को उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया, जहां डाक्टरों ने अनिल को मृत घोषित कर दिया।

गोली से घायल अन्य लोगों को एसआरएन अस्पताल प्रयागराज रेफर कर दिया। घटना की जानकारी मिलने पर पहुंचे सीओ सिटी अभय पांडेय ने फोर्स के साथ आरोपियों के घर दबिश दी, हालांकि वह हाथ नहीं लगे। तनाव की खबर मिलने पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

सार

दबंगों ने चालक के तीन साथियों को भी मारी गोली, अस्पताल में हंगामा

विस्तार

मैजिक से धूल उड़ने के विवाद को लेकर दबंगों ने चालक की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली लगने से चालक के तीन साथी भी घायल हो गए। घायलों को लेकर पहुंचे परिजन अस्पताल में हंगामा करने लगे। बाद में सभी को प्रयागराज रेफर कर दिया गया। गांव में तनाव के चलते फोर्स तैनात कर दी गई है। आरोपी घर छोड़कर फरार हो गए हैं।

नगर कोतवाली के पूरेशेख टेऊंगा निवासी अनिल उर्फ बबलू (40) पुत्र श्रीराम मैजिक चलाता था। बुधवार की शाम करीब साढ़े छह बजे वह अपनी मैजिक गाड़ी लेकर घर जा रहा था। कुछ दूरी पर नरवा का रहने वाला शाहरुख पुत्र जब्बार खड़ा था। मैजिक से धूल उड़ने पर शाहरुख ने अनिल को गाड़ी धीमी गति से चलाने के लिए कहा। इसी को लेकर उनके बीच विवाद बढ़ गया।

शाहरुख को अनिल की बात नागवार गुजरी। उसने अपने कुछ साथियों को बुला लिया। बातचीत के दौरान ही शाहरुख अपने साथियों के साथ फायरिंग करने लगा। गोली लगने से अनिल उर्फ बबलू (40), रिंकेश (24) पुत्र प्रेमचंद्र, प्रदीप (30) पुत्र मनोज व रवि (27) पुत्र श्यामलाल घायल हो गए। शोरशराबा व फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़े तो हमलावर भाग निकले। गोली से घायल लोगों को उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया, जहां डाक्टरों ने अनिल को मृत घोषित कर दिया।

गोली से घायल अन्य लोगों को एसआरएन अस्पताल प्रयागराज रेफर कर दिया। घटना की जानकारी मिलने पर पहुंचे सीओ सिटी अभय पांडेय ने फोर्स के साथ आरोपियों के घर दबिश दी, हालांकि वह हाथ नहीं लगे। तनाव की खबर मिलने पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here