86 नए पॉजिटिव केस मिले: कुवैत से शव नहीं आ पाया तो पुराने कपड़ों से शव बनाकर दाह संस्कार किया, ताकि राख तो नसीब हो

0
8
  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं, यहां 896 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 57 लोगों की मौत हुई है। इनमें सबसे ज्यादा मौत जयपुर में हुई

जयपुर. राजस्थान में लॉकडाउन और सख्ती के बाद भी संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। गुरुवार सुबह 86 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें जोधपुर में 59, जयपुर में 14, अजमेर में चार, चित्तौड़गढ़ में तीन, टोंक और कोटा में दो-दो, धौलपुर और अलवर में एक-एक संक्रमित मिला। इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2524 पहुंच गया। वहीं, संक्रमण से बुधवार देर रात जयपुर में एक 67 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। जयपुर में पिछले 24 घंटे में संक्रमण से चार लोगों की जान जा चुकी है। राज्य में अब तक 57 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। इसमें 34 की मौत जयुपर में हुई है।

कोरोना के कहर के बीच एक झकझोर देने वाला मामला बुधवार को डूंगरपुर के सीमलवाड़ा कस्बे में सामने आया। यहां के रहने वाले होटल व्यवसायी दिलीप कलाल (56) की कुवैत में संक्रमण से मौत हो गई। वह पिछले 15 दिनों से वहां के हॉस्पिटल में भर्ती थे। डूंगरपुर में मृतक की पत्नी, बेटे-बहू समेत परिजन फंसे हुए हैं। अंतिम संस्कार की रस्म पूरी नहीं होने से सबको बड़ा दुख था। इस पर घर के बुजुर्गों ने सांकेतिक अंतिम संस्कार करने का सुझाव दिया। परिवार और रिश्तेदारों ने अंतिम संस्कार के बाद आगे की रस्मों के लिए पुराने कपड़ों से शव बनाकर दाह संस्कार किया। फिर इसकी राख इकट्ठी की।

राजस्थान कोरोना की सबसे ज्यादा जांचें करने के मामले में देश में महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद तीसरे नंबर पर आ गया है। प्रदेश ने बुधवार आधी रात को एक लाख सैंपल का आंकड़ा छू लिया। सैंपलिंग में पहले नंबर पर महाराष्ट्र है। वहां अब तक 1 लाख 28 हजार 726 सैंपल लिए गए। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु है। वहां 1 लाख एक हजार 874 सैंपल लिए गए। राजस्थान ने बहुत तेजी से सैंपलिंग की। 1 अप्रैल तक प्रदेश में कुल सैंपल केवल 5563 थे, लेकिन मात्र 29 दिन में 95 हजार से अधिक सैंपल लेकर राजस्थान ने यह रिकॉर्ड बनाया। यूपी जैसे तीन गुना ज्यादा आबादी वाले राज्य से राजस्थान के सैंपल अब भी डेढ़ गुना ज्यादा हैं।

यह तस्वीर कुवैत की है। यहां डूंगरपुर के रहने वाले  व्यवसायी की संक्रमण के चलते मौत हो गई थी। इसके बाद वहां के मेडिकल विभाग ने शव को दफना दिया।

राजस्थान: एक लाख सैंपल लेने वाला देश का तीसरा राज्य बना

  • राजस्थान में प्रति 10 लाख आबादी पर भी सैंपलिंग 1428 है, जो राष्ट्रीय औसत से कई गुना ज्यादा है। राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने अगले सप्ताह के लिए रोज 10 हजार सैंपल का लक्ष्य रखा है।
  • राजस्थान सरकार अब मजदूरों को घर भेजना शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री गहलोत ने बताया कि प्रवासियों को सकुशल उनके घर पहुंचाने के लिए राजस्थान सरकार ने एक व्यवस्थित एवं सुगम प्रक्रिया के तहत आनलाइन पंजीकरण की व्यवस्था की है, जिसमें बुधवार रात तक करीब 6 लाख 35 हजार श्रमिकों एवं प्रवासियों ने अपना पंजीयन कराया है।
यह तस्वीर बुधवार की धौलपुर की है। यहां कुछ मजदूरों को उत्तर प्रदेश के लिए रवाना किया।

राजस्थान: जयुपर में एक एक हफ्ते में 22 लोगों की जान गई

  • जयपुर: राजधानी में कुछ दिन से कोरोना के नए मरीजों की संख्या स्थिर हुई है। हालांकि, मौतों की संख्या लगातार बढ़ रही है। गुरुवार को एक और व्यक्ति की मौत हो गई। इससे पहले बुधवार को जयपुर में 21 नए केस मिले और 4 लोगों की मौत हो गई। जयपुर में कुल मृतकों का आंकड़ा 34 पहुंच गया है।
  • अजमेर: यहां 48 घंटे में ऊसरी गेट क्षेत्र से पॉजिटिव मरीज सामने आ रहे हैं। बीती रात एक बच्चे की रिपोर्ट यहीं से पॉजिटिव आई थी। बुधवार को 15 पॉजिटिव में से 10 लोग ऊसरी गेट व पहाड़ गंज क्षेत्र के हैं। इसी कारण चिकित्सा विभाग ने इस क्षेत्र की ओर फोकस कर दिया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केके सोनी ने यहां पर विशेष टीमें लगाकर सर्वे करने के साथ ही यहां डॉक्टरों को लगाया है।
  • भरतपुर: आगरा की रहने वाली एक महिला कोरोना पॉजिटिव मरीज निकलने से फिर चिंता बढ़ा दीं। ये महिला आगरा में अपने पति से झगड़ा होने पर बहन के लड़के के साथ बड़ी बहन के पास गांव विलोंद कामां आ गई थी, जिसका पता चलते ही उसे मेडिकल टीम ने भरतपुर लाकर सैंपल लिया और क्वारेंटाइन में रखा था। कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।
जयपुर में गलियां काफी समय से सील है। जहां लोगों खुद बैरेकेडिंग कर आने-जाने वालों पर नजर रख रहे हैं।
जयपुर में गलियां काफी समय से सील है। जहां लोगों खुद बैरेकेडिंग कर आने-जाने वालों पर नजर रख रहे हैं।

राजस्थान: जोधपुर में संक्रमितों का आंकड़ा 500 पार निकला

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 896 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 519 (इसमें 47 ईरान से आए), कोटा में 194, अजमेर में 150, टोंक में 134, भरतपुर में 111, नागौर में 118, बांसवाड़ा में 64, जैसलमेर में 49 (इसमें 14 ईरान से आए), झुंझुनूं में 42, झालावाड़ में 40, बीकानेर में 37, भीलवाड़ा में 37 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 21, चूरू में 14, हनुमानगढ़ में 11, सवाईमाधोपुर में 8, चित्तौड़गढ़ में 19, अलवर में 8, डूंगरपुर में 6, सीकर में 6, उदयपुर में 8, धौलपुर में 12, करौली में 3, पाली में 12, बाड़मेर और प्रतापगढ़ में 2-2 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। वहीं राजसमंद में 1 संक्रमित मिला है।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 57 लोगों की मौत हुई है। इनमें सबसे ज्यादा मौत जयपुर में हुई हैं। यहां 34 जयपुर (जिसमें दो यूपी से) की जान जा चुकी है। इसके अलावा, जोधपुर में 7, कोटा में 6, भीलवाड़ा, सीकर और भरतपुर में 2-2, अलवर, बीकानेर, नागौर और टोंक में एक-एक की जान जा चुकी है।
  • कोराना संकट के बीच राहत की खबर यह है कि अब तक प्रदेश में 592 लोग स्वस्थ भी हुए हैं। जयपुर में 249 (2 इटली के नागरिक), जोधपुर 81, बीकानेर में 36, भीलवाड़ा में 24, जैसलमेर में 30, बांसवाड़ा में 31, झुंझुनू 33, टोंक में 35, झालावाड़ और चुरू 12-12, नागौर में 9, कोटा में 5, डूंगरपुर 5, दौसा में 5, भरतपुर में 4-4, हनुमानगढ़, सीकर, पाली और प्रतापगढ़ में दो-दो, बाड़मेर अलवर और करौली में एक-एक  मरीज को डिस्चार्ज किया गया है। इसके अलावा, ईरान से जोधपुर और जैसलमेर लाए गए 8 लोगों भी संक्रमण से मुक्त हुए हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here