आरएसएस ने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों को बांटे 1.92 करोड़ फूड पैकेट

0
5

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों की मदद के लिए व्यापक अभियान चलाया है। देश के 45 हजार से ज्यादा स्थानों पर सेवा कार्यों का संघ ने संचालन करते हुए लाखों जरूरतमंदों तक मदद पहुंचाई। खास बात है कि 17 अप्रैल तक एक करोड़ 92 लाख लोगों तक संघ भोजन पहुंचाने में सफल रहा।

आरएसएस के सेवा विभाग की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, संघ ने बीते 17 अप्रैल तक कुल 45,481 स्थानों पर सेवा कार्य चलाया। सेवा कार्यों का संचालन दो लाख 57 हजार 690 स्वयंसेवकों ने किया। इस दौरान जहां 29 लाख 60 हजार 985 परिवारों तक राशन की आपूर्ति हुई। वहीं, एक करोड़ 92 लाख 59 हजार 179 लोगों तक फूड पैकेट पहुंचाया गया।

आरएसएस के सेवा विभाग ने बताया, प्रवासी मजदूरों की भी सहायता का अभियान चलाया। 3,51,054 मजदूरों की हर तरह से सहायता की गई। संकट की इस घड़ी में स्वास्थ्य क्षेत्र में भी बढ़-चढ़कर स्वयंसेवकों ने हिस्सा लिया। आरएसएस की ओर से कुल 11,740 ब्लड डोनेशन किए गए। दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों में संघ ने सेवा अभियान चलाया है।

आरएसएस के सेवा विभाग ने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों के लिए राशन किट, भोजन, मास्क, अस्थाई निवास व्यवस्था, श्रमिक सहायता, रक्तदान, काढ़ा वितरण जैसे कार्य संचालित कर रहा है। आरएसएस के सेवा भारती से जुड़े सुखदेव कहते हैं कि दिल्ली के हर हिस्से में जरूरतमंदों तक कार्यकर्ता पहुंचे हैं। हमारा लक्ष्य है कि लॉकडाउन के दौरान किसी को कोई तकलीफ न हो।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here