जानिए कैसे देगा आपके घर का वाईफाई बेहतर स्पीड?

0
10
कोरोना वायरस की समस्या ने समूचे विश्व को हिला कर रख दिया है। इससे ना केवल कोई एक देश परेशान है, बल्कि विश्व के तमाम देश इस बुरी स्थिति से दो-चार हो रहे हैं। कोरोना वायरस से क्या अकेला व्यक्ति, क्या संगठन, क्या उद्योग-धंधे हर कोई त्रस्त है। भारत में तो सब कुछ लॉक डाउन हो चुका है और ऐसी स्थिति में अधिकांश लोग घर से काम करने के लिए मजबूर हैं। 
 

इसे भी पढ़ें: पंच-होल डिस्प्ले और 5G के साथ लॉन्च हुए OnePlus 8 और OnePlus 8 Pro, जानें सभी फीचर्स

क्योंकि ऑफिस में लीज लाइन के माध्यम से तेज इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध रहती है, किंतु घर पर आप होम ब्रॉडबैंड यूज़ करते हैं। ऐसी स्थिति में नेचुरल है कि आपको घर से काम करने पर स्पीड की समस्या आएगी ही आएगी। सिर्फ काम ही क्यों बल्कि तमाम स्टूडेंट्स घर से ऑनलाइन क्लासेज के माध्यम से ज्ञानार्जन कर रहे हैं, ऐसे में उनके लिए भी इंटरनेट की स्पीड काफी मायने रखती है। आइए देखते हैं कि किस प्रकार ‘वर्क फ्रॉम होम’ में आप अपने वाईफाई को बेहतर स्पीड दे सकते हैं।
राउटर को एक्सेसिबल पॉइंट पर रखें
जी हां! राउटर आपकी डिवाइसेज से… वह चाहे मोबाइल हो, चाहे पर्सनल कंप्यूटर हो, जितना करीब रहेगा, उतना आपका सिग्नल मजबूत रहेगा और स्पीड ठीक रहेगी। बेटर रहेगा कि अब घर के सेंटर में अपना वाईफाई राउटर रखने की कोशिश करें, जिससे बेहतर स्पीड मिले। कई बार क्या होता है कि कंप्यूटर पर काम करते हुए वाईफाई राउटर आपको सटीक स्पीड नहीं दे पाता है। ऐसी स्थिति में आपको राउटर अपने पीसी के पास लगाना चाहिए ताकि जरूरत पड़ने पर आप वायर कनेक्शन के माध्यम से अपना पीसी चला सकें।
वर्तमान समय में 5GHz  वाईफाई सिगनल काफी इंपॉर्टेंट हो गया है और अगर आपका वाईफाई राउटर अपडेट है तो 5GHz फ्रीक्वेंसी के माध्यम से आप इंटरनेट का स्पीड बूस्ट कर सकेंगे।
 

इसे भी पढ़ें: Samsung Galaxy A21 में हैं क्वाड रियर कैमरा और 4000 एमएएच की बैटरी, जानिए सभी फीचर्स

पासवर्ड प्रोटेक्शन
आपके वाई-फाई का पासवर्ड से प्रोटेक्ट होना जरूरी है। अगर आपका नेटवर्क पासवर्ड से प्रोटेक्टेड नहीं है तो उसको कोई भी एक्सेस कर सकता है। इससे ना केवल आपके राउटर की स्पीड कम होगी बल्कि इससे प्राइवेसी का भी खतरा है। ऐसे में बेहतर रहेगा कि आप अपने वाईफाई का पासवर्ड एक्टिव रखें और इसे अगर किसी के साथ इमरजेंसी में शेयर करते हैं तो उसके बाद इसे बदल दें। यह भी ध्यान रखने वाली बात है कि वन, टू, थ्री, फोर, फाइव, सिक्स या ऐसे आसान कॉम्बिनेशन वाले पासवर्ड यूज ना करें जिसे कोई आसानी से गेस कर ले।
क्लीनिंग 
कई बार ब्राउज़र और आपका पीसी क्लीनिंग मांगता है। अगर उसमें हेवी डाटा, कुकीज इकट्ठे हो जाते हैं तो निश्चित रूप से यह आपकी स्पीड पर फर्क डालता है। इसीलिए बेटर हो कि आप अपने कंप्यूटर को नियमित तौर पर क्लीन करें और अपने ब्राउजर हिस्ट्री और कुकीज़ को भी समय-समय पर क्लीन करते रहें। इसके लिए क्रोम या दूसरे ब्राउज़र्स में दिए गए टूल आप आजमा सकते हैं तो सी-सी क्लीनर जैसे कई सॉफ्टवेयर भी हैं, जिनका आप मुफ्त या पेड वर्जन इस्तेमाल कर सकते हैं।
 

इसे भी पढ़ें: नए GST दर के बाद महंगे हुए ये स्मार्टफोन, जानिए डिटेल

इसके अलावा कई बार यूं भी देखा गया है कि जब आप एक ही समय पर ब्राउज़र में कई सारे टैब ओपन करते हैं तो यह स्पीड का बड़ा हिस्सा कंज्यूम करता है। इसलिए ज्यादा बेटर होगा कि ऑफिस का काम या कोई अन्य जरूरी काम निपटाते समय आप वीडियो या दूसरे टैब ओपन ना करें।
इन उपायों को आज़मा कर आप अपने वाई-फाई की स्पीड को निश्चित तौर पर बढ़ा सकते हैं।
– मिथिलेश कुमार सिंह

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here