बदल गई महिष्मती साम्राज्य की परंपरा, शिवगामी के दोनों बेटे बाहुबली और भल्लालदेव साथ राजगद्दी पर बैठे!

0
10

साल 2017 में आयी फिल्म बाहुबली ने अपनी अधूरी कहानी को पूरा करते हुए सभी को ये बता दिया कि आखिर कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा था। बाहुबली का पहला पार्ट देखने के बाद लोगों को दो साल बाद इस सवाल का जबाव मिला। भारतीय सिनेमा में रामामौली निर्देशित फिल्म बाहुबली सबसे सफल फिल्म है। भारत में ही फिल्म ने 700 करोड़ से ज्यादा का बिजनेस किया था। फिल्म की कहानी महिष्मती साम्राज्य की कहानी थी जहां शिवगामी देवी के वचन का ही कानून की तरफ पालन किया जाता था। शिवगानी देवी ने अपने जेठ के बेटे और अपने पुत्र को एक समान माना दोनों में कफी फर्क नहीं किया। जेठ  के बेटे का नाम  बाहुबली थी और सगे बेटे का नाम भल्लालदेव। शिवगामी ने कालके से जंग में अपनाई गई रणनीति के बाद बाहुबली को अगला राजा घोषित कर दिया। बस यहीं से शुरू हो जाती है सिंहासन को लेकर जंग। बहुबली के दयालु और उदार व्यक्तित्व के कारण प्रजा उन्हें बहुत पसंद करती थी वहीं भल्लादेव जुल्मी था। भल्लाल देव षड़यंत्र रचता है और राजगद्दी अपना लेता हैं। 

इसे भी पढ़ें: शाहरुख खान की लाडली सुहाना की दोस्तों के साथ पार्टी करते हुए तस्वीर वायरल

आज आपको बाहुबली की ये कहानी इस लिए सुनाई कि पर्दे पर एक दूसरे के खून के प्यासे किरदार फिल्म के सेट पर कैसे रहते हैं। बाहुबली के सेट की एक पुरानी तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही  है इस तस्वीर में बाहुबली के दोनों युवराज साथ में सिंहासन शेयर कर रहे हैं। ये तस्वीर फिल्म की टीम ने फिल्म के तीन साल पूरे होने के अवसर पर शेयर की है। भारतीय सिनेमाघरों में फिल्म आज ही के दिन रिलीज हुई थी।

फिल्म में कई लीड कलाकार थे जिनमें से  प्रभास, राणा दग्गुबाती. अनुष्का शेट्टी, तमन्ना भाटिया, राम्या कृष्णन के इर्द-गिर्द फिल्म बुनी गई थी। 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here