चंपावत में बैठक में मौजूद व्यापारी।

0
40

चंपावत में बैठक में मौजूद व्यापारी।

चंपावत में बैठक में मौजूद व्यापारी।

ख़बर सुनें

संवाद न्यूज एजेंसी, चंपावत। चंपावत में लॉकडाउन के दौरान दुकानें खोलने को लेकर बुलाई गई व्यापारियों की बैठक में उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब एक व्यापारी नेता और एक अन्य व्यापारी के बीच हाथापाई हो गई। बैठक में मौजूद वरिष्ठ पदाधिकारियों ने किसी तरह मामले को शांत कराया। चंपावत में लॉकडाउन के दौरान बाजार खोलने की अवधि को लेकर व्यापार संघ की ओर से बृहस्पतिवार को बैठक बुलाई गई थी। प्रशासन की ओर से लॉकडाउन के तीसरे चरण में दुकानें सुबह सात बजे से चार बजे तक खोलने की छूट दी गई है। वहीं सोमवार को चंपावत व्यापार संघ ने बाजार में भारी भीड़ उमड़ने से बाजार खुलने की अवधि कम करने का निर्णय लिया। तय किया गया कि बाजार सुबह सात बजे से एक बजे तक ही खुलेगा, लेकिन बाजार एक बजे तक खोलने की जानकारी अधिकांश व्यापारियों को नहीं होने से लगातार दो दिनों से दुकान खोलने के समय को लेकर असमंजस बना रहा। व्यापारी कभी दो बजे, तो कभी तीन बजे दुकानों को बंद करते रहे।
बृहस्पतिवार को व्यापार मंडल चंपावत के अध्यक्ष अमरनाथ सक्टा की अध्यक्षता और प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल जिलाध्यक्ष प्रकाश तिवारी के संचालन में हुई बैठक में तय किया गया कि लाकडाउन के तीसरे चरण में 17 मई तक दुकानें सुबह सात बजे से तीन बजे तक खोली जाएंगी| इस दौरान दो व्यापारियों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। कहासुनी इतनी बढ़ गई कि दोनों के बीच हाथापाई शुरू हो गई और बैठक में हंगामा मच गया। बाद में अन्य व्यापारियों ने हस्तक्षेप कर दोनों पक्षों को शांत कराया।
बैठक में महामंत्री नवल जोशी, उपाध्यक्ष दीपक लारा, वरिष्ठ व्यापारी श्याम नारायण पांडेय, कमलेश राय, नवीन सेलिया, सुनील पुनेठा, मयूख चौधरी, गिरीश तिवारी, कैलाश पांडेय, दिग्विजय कार्की, विक्की चौधरी, नीरज वर्मा, नारायण दत्त गड़कोटी आदि मौजूद रहे।

संवाद न्यूज एजेंसी, चंपावत। चंपावत में लॉकडाउन के दौरान दुकानें खोलने को लेकर बुलाई गई व्यापारियों की बैठक में उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब एक व्यापारी नेता और एक अन्य व्यापारी के बीच हाथापाई हो गई। बैठक में मौजूद वरिष्ठ पदाधिकारियों ने किसी तरह मामले को शांत कराया। चंपावत में लॉकडाउन के दौरान बाजार खोलने की अवधि को लेकर व्यापार संघ की ओर से बृहस्पतिवार को बैठक बुलाई गई थी। प्रशासन की ओर से लॉकडाउन के तीसरे चरण में दुकानें सुबह सात बजे से चार बजे तक खोलने की छूट दी गई है। वहीं सोमवार को चंपावत व्यापार संघ ने बाजार में भारी भीड़ उमड़ने से बाजार खुलने की अवधि कम करने का निर्णय लिया। तय किया गया कि बाजार सुबह सात बजे से एक बजे तक ही खुलेगा, लेकिन बाजार एक बजे तक खोलने की जानकारी अधिकांश व्यापारियों को नहीं होने से लगातार दो दिनों से दुकान खोलने के समय को लेकर असमंजस बना रहा। व्यापारी कभी दो बजे, तो कभी तीन बजे दुकानों को बंद करते रहे।
बृहस्पतिवार को व्यापार मंडल चंपावत के अध्यक्ष अमरनाथ सक्टा की अध्यक्षता और प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल जिलाध्यक्ष प्रकाश तिवारी के संचालन में हुई बैठक में तय किया गया कि लाकडाउन के तीसरे चरण में 17 मई तक दुकानें सुबह सात बजे से तीन बजे तक खोली जाएंगी| इस दौरान दो व्यापारियों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। कहासुनी इतनी बढ़ गई कि दोनों के बीच हाथापाई शुरू हो गई और बैठक में हंगामा मच गया। बाद में अन्य व्यापारियों ने हस्तक्षेप कर दोनों पक्षों को शांत कराया।
बैठक में महामंत्री नवल जोशी, उपाध्यक्ष दीपक लारा, वरिष्ठ व्यापारी श्याम नारायण पांडेय, कमलेश राय, नवीन सेलिया, सुनील पुनेठा, मयूख चौधरी, गिरीश तिवारी, कैलाश पांडेय, दिग्विजय कार्की, विक्की चौधरी, नीरज वर्मा, नारायण दत्त गड़कोटी आदि मौजूद रहे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here