खुशखबरी : आधे दाम में मिलेंगे अदरक के बीज

0
54

कोरोना संकटकाल में किसानों के साथ-साथ गांव लौटे प्रवासियों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए उद्यान विभाग ने पहल शुरू कर दी है। खेती से जुड़ने के लिए अदरक का बीज आधे दाम पर मुहैया कराया जा रहा है। जिले में उद्यान विभाग को 180 क्विंटल अदरक का बीज उपलब्ध हो गया है। प्रवासी और काश्तकार अपने निकटवर्ती उद्यान सचल दल केंद्र से बीज प्राप्त कर सकते हैं।

टिहरी जिले के जौनपुर, नरेंद्रनगर और कीर्तिनगर ब्लॉक क्षेत्र में सबसे अधिक अदरक की पैदावार होती है। जिले के नौ विकासखंडों में प्रति वर्ष औसतन एक हजार 487 मीट्रिक टन अदरक का उत्पादन होता है।
काश्तकारों को सरकार की ओर से निर्धारित धनराशि के आधे दाम पर अदरक का बीज दिया जा रहा है। सरकार ने 86 रुपये प्रतिकिलो अदरक के बीज की कीमत निर्धारित की। काश्तकारों को 43 रुपये प्रतिकिलो अदरक के बीज मुहैया कराया जा रहा है। जिले में करीब 1500 हेक्टेयर पर अदरक की खेती की जाती है। जौनपुर ब्लॉक में 787 मीट्रिक टन, नरेंद्रनगर में 362, चंबा में 73, कीर्तिनगर में 54, देवप्रयाग में 49 मीट्रिक टन अदरक का उत्पादन होता है। बाजार में भी अदरक करीब 100 रुपये प्रति किलो बिकता है।
सभी उद्यान सचल केंद्रों में अदरक का बीज उपलब्ध है। जहां से काश्तकार अपनी जरूरत के अनुसार बीज ले सकते हैं। इन दिनों अदरक की बुआई का सीजन है। उत्तराखंड में सबसे अधिक अदरक का उत्पादन टिहरी जिले में होता है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here