हाईकोर्ट ने दिल्ली में शराब की दुकानों को बंद करने से किया इंकारᅠ

0
87

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने लॉकडाउन के दौरान राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में शराब की दुकानों को बंद कराने से इनकार कर दिया है। पीठ ने शराब की बिक्री करने या ना करने को लेकर निर्णय केन्द्र और दिल्ली सरकार पर छोड़ दिया। इसके साथ ही पीठ ने शराब की बिक्री से संबंधित सभी याचिकाओं का निपटारा कर दिया।
न्यायमूर्ति राजीव सहाय एंडलॉ और न्यायमूर्ति संगीता ढींगरा सहगल की पीठ ने इन याचिकाओं पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई की। पीठ ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में शराब की बिक्री का निर्णय कार्यपालिका पर निर्भर है। इस संबंध में फैसला करना न्यायपालिका के अधिकार क्षेत्र में नहीं है। हालांकि इसके साथ ही पीठ ने केन्द्र और दिल्ली सरकार को निर्देश दिया कि शराब की बिक्री को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरी तरह पालन कराया जाए, ताकि भारी भीड़ के कारण कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी ना हो सके। वहीं दिल्ली सरकार के वकील ने दलील दी कि शराब की दुकानों पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए ई-कूपन सिस्टम शुरू किया गया है, जोकि पहले से बेहतर है। ई-टोकन के जरिए लोगों की भीड़ को नियंत्रण करने की कोशिश की जा रही है। इस पर कोर्ट ने कहा कि यह पता लगा है कि ई-टोकन सिस्टम शुरू होने के बाद भी टोकन धारकों को ज्यादा लाभ नहीं हुआ है और लोगों को टोकन लेने के बाद भी शराब लेने के लिए लाइनों में काफी समय बिताना पड़ रहा है। पीठ ने कहा कि लोगों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सरकार को और प्रभावी तरीके से प्रयास करना चाहिए। पीठ ने शराब की ऑनलाइन बिक्री की मांग वाली याचिका पर भी केन्द्र और दिल्ली सरकार को विचार करने का निर्देश दिया है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here