पंचायती राज दिवस: PM की चिट्ठी- गांवों में बसती है भारत की आत्मा, कोरोना से जीत जाएंगे हम

0
13

 

पंचायती राज दिवस (Panchayati Raj Day) की पूर्व संध्या यानी गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में पीएम ने पंचायती राज दिवस की बधाई देते हुए कहा है कि, महात्मा गांधी के विजन पर बढ़ते हुए सरकार ने ग्रामीण विकास की दिशा में कई कदम उठाए हैं। पीएम ने सशक्त ग्रामीण अर्थव्यवस्था (Rural economy) को देश के विकास की कुंजी बताते हुए कहा कि, भारत की आत्मा गांवों में बसती है। वहीं यह भी कहा कि, हम सब मिलकर जरूर कोरोना से जीत जाएंगे।

पीएम मोदी ने अपने पत्र में लिखा…
पंचायती राज संस्थाओं के माध्यम से भारत की विकास यात्रा में प्रभावी भूमिका निभा रहे सभी लोगों को पंचायती राज दिवस की बधाई। महात्मा गांधी का मानना था कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है। हमारी सरकार इसी सोच के साथ आगे बढ़ रही है कि, एक सशक्त अर्थव्यवस्था देश के विकास की कुंजी है। 

कोरोना संकट का जिक्र करते हुए पीएम ने लिखा…
आज कोरोना महामारी पूरी मानवता के सामने चुनौती बनकर खड़ी है। ऐसे में सभी भारतीय पूरी एकजुटता के साथ उसका मुकाबला कर रहे हैं। पंचायती राज व्यवस्था के वे सभी सदस्य हमारे लिए प्रेरणा के स्त्रोत हैं जो इस महामारी से निपटने के लिए वीर योद्धाओं की तरह पूरे समर्पण के साथ कोरोना संक्रमण को रोकने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। यही सामूहिक शक्ति हमारा संबल है। देशवासियों के धैर्य, सहयोग और सजगता के जरिए हम अवश्य कोरोना महामारी को परास्त करेंगे।

ई-ग्राम स्वराज पोर्टल का उद्घाटन करेंगे पीएम
केंद्रीय पंचायती राज मंत्री तोमर ने कहा कि राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री ई-ग्राम स्वराज नामक एक एकीकृत पोर्टल का उद्घाटन करेंगे जिसमें पंचायत स्तर पर नियोजन, अनुश्रवण, वित्त प्रबंधन तथा ऑडिट की सुविधा उपलब्ध है। इसके अलावा, राज्य सरकारों तथा भारतीय सर्वेक्षण विभाग के सहयोग से पंचायती राज मंत्रालय ने ड्रोन आधारित नवीनतम सर्वेक्षण तकनीक का प्रयोग करते हुए स्वामित्व नामक नई केंद्रीय योजना शुरू करने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री इस मौके पर इस योजना का भी शुभारंभ करेंगे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here